Home Home ‘नौकरी चाहता तो जेटली इस जगह नहीं होते’, आज तक जो एक...

‘नौकरी चाहता तो जेटली इस जगह नहीं होते’, आज तक जो एक चुनाव नहीं जीता उसे मंत्री बनाया है मोदी ने

नई दिल्ली, एजेंसी। पूर्व वित्त मंत्री व वरिष्ठ भाजपा नेता यशवंत सिन्हा ने शुक्रवार को वित्त मंत्री अरुण जेटली की टिप्पणियों का करारा जवाब दिया। यशवंत ने कहा, ‘अगर मैं 80 साल की उम्र में नौकरी ढूंढ रहा होता, तो जेटली अभी वित्त मंत्रालय का कामकाज नहीं संभाल रहे होते।’ बता दें कि गुरुवार को जेटली ने यशवंत सिन्हा को 80 साल की उम्र में नौकरी का आवेदक बताते हुए तंज कसा था।

सिन्हा ने कहा, ‘जेटली मेरी पृष्ठभूमि भूल गए
सिन्हा ने कहा, ‘जेटली मेरी पृष्ठभूमि भूल गए हैं। मैंने राजनीति में आने के बाद कई मुश्किलों का सामना किया है। मैंने आईएएस की नौकरी सेवानिवृत्ति से 12 साल पहले छोड़ दी थी। राजनीति में आया, तो सत्ता पक्ष के साथ नहीं बल्कि विपक्ष में गया। वी.पी. सिंह की सरकार में राज्य मंत्री का पद नहीं लिया। राजनीति में आने के बाद मैंने जल्द ही निर्वाचन क्षेत्र चुना। इसके लिए 25 साल का समय नहीं लिया।

जिन्होंने लोकसभा का मुंह नहीं देखा है, वे मुझसे सवाल कर रहे हैं और हमला कर रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि मेरे कामों की आलोचना करके जेटली उस वक्त के प्रधानमंत्री वाजपेयी की आलोचना कर रहे हैं, जिन्होंने अहम मंत्रालय देकर मुझमें भरोसा जताया था।
इस बीच, अर्थव्यवस्था पर यशवंत सिन्हा के विचारों का समर्थन करने वाले भाजपा नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने शुक्रवार को कहा कि यह सही समय है, जब प्रधानमंत्री को सामने आकर सवालों के जवाब देने चाहिए।
‘चिदंबरम से मिलीभगत’
जेटली ने सिन्हा पर यह भी आरोप लगाया कि वह कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। चिदंबरम के साथ संबंधों के बारे में पूछे जाने पर सिन्हा ने कहा कि वह (चिदंबरम) मेरे नहीं, जेटली के मित्र हैं। मेरे कामों की आलोचना कर जेटली उस वक्त के प्रधानमंत्री वाजपेयी की आलोचना कर रहे हैं, जिन्होंने अहम मंत्रालय देकर मुझमें भरोसा जताया था।

SHARE