Home Home गोधरा कांड में 11 की फांसी उम्रकैद में बदली, 59लोगों की हुई...

गोधरा कांड में 11 की फांसी उम्रकैद में बदली, 59लोगों की हुई थी हत्या

अहमदाबाद। गुजरात हाईकोर्ट ने गोधरा में साबरमती एक्सप्रेस नरसंहार मामले में 11 दोषियों की सजा-ए-मौत को सोमवार को उम्रकैद में बदल दिया। वहीं 20 अन्य दोषियों की उम्रकैद की सजा को बरकरार रखा।अदालत ने कहा कि राज्य सरकार और रेलवे दोनों कानून-व्यवस्था बनाए रखने में असफल रहे हैं और दोनों पीड़ित परिवारों को 10-10 लाख मुआवजा देंगे।

न्यायमूर्ति अनंत एस दवे और न्यायमूर्ति जीआर उधवानी की खंडपीठ ने कहा कि वह दोषियोंकी मौत की सजा को सश्रम उम्रकैद में बदल रही है। अदालत ने विशेष एसआईटी अदालत द्वारा 20 अन्य को सुनाई गई उम्रकैद की सजा को बरकरार रखा। इस बीच, विश्व हिन्दू परिषद के प्रमुख प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि सरकार को इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाना चाहिए।

27 फरवरी, 2002 को गोधरा स्टेशन के पास साबरमती एक्सप्रेस की एस-6 बोगी को जला दिया गया था। घटना में 59 लोग मारे गऐ थे, जिसके बाद गुजरात में सांप्रदायिक दंगे भड़के थे। 2011 में दोषी ठहराए गए थे। अदालत ने एक मार्च, 2011 को 31 लोगों को दोषी करार दिया था। इनमें से 11 को फांसी तथा 20 को उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी। 63 लोगों को बरी कर दिया गया था।